डोनाल्ड ट्रंप निजी हेलीकॉप्टर को बस देख सकते हैं, उड़ान नहीं भर सकते, जानें क्यों               जयंती पर बाबू जगजीवन राम को किया याद                 लालू के बेटों के पास है 30 करोड़ का प्लॉट, यही है कई घोटालों की असली वजह : बिहार बीजेपी

दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 50 के पार, विकेट को तरसे भारतीय गेंदबाज

 

टीम इंडिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा टेस्ट जोहानसबर्ग के वांडरर्स मैदान पर खेला जा रहा है। बारिश की वजह से चौथे दिन का खेल थोड़ी देर से शुरू हुआ। टीम इंडिया द्वारा मिले 241 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका ने लंच समय तक 28 ओवर में एक विकेट खोकर 69 रन बना लिए हैं। डीन एल्गर 29 और हाशिम अमला 27 रन पर क्रीज पर जमे हुए हैं। दक्षिण अफ्रीका को जीतने के लिए अभी 172 रन की जरुरत है।

दूसरी पारी में टीम इंडिया को एकमात्र सफलता मोहम्मद शमी ने एडेन मार्करम (4) को पटेल के हाथों कैच आउट कराकर दिलाई। भारत को इस टेस्ट को जीतने के लिए अभी भी 9 विकेट के दरकरार है।

इससे पहले टीम इंडिया ने शुक्रवार को तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन दक्षिण अफ्रीका के सामने जीत के लिए 241 रन का लक्ष्य रखा है। टीम इंडिया की दूसरी पारी 80.1 ओवर में 247 रन पर सिमटी। अजिंक्य रहाणे (48), कप्तान विराट कोहली (41), भुवनेश्वर कुमार (33) और मोहम्मद शमी (27) ने टीम इंडिया को विशाल बढ़त दिलाने में मदद की।

याद हो कि टीम इंडिया की पहली पारी 187 रन पर सिमटी थी, जिसके बाद प्रोटियाज टीम की पहली पारी 194 रन पर ऑलआउट हुई थी। दक्षिण अफ्रीका के लिए वार्नेन फिलेंडर, मोर्ने मॉर्कल और कागिसो रबाडा ने 3-3 विकेट झटके, जबकि लुंगी एनडिगी को एक विकेट मिला।

 

आईपीलए 2018 नीलामी- इशांत, मलिंगा, जॉनसन व हेजलवुड को मिले .....
a��a�?a��a??a��a�?a?�a�� a��a?� a�?a��a�?a�?a�? 6.2 a��a��a?�a�?a�? a��a?�a�� a��a�?a��a�? a�?a?� a��a�?a�?a�?a�? a��a??a��a�?a��a?�a�Ya��
shareShare on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedInEmail this to someone

Be the first to comment on "दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 50 के पार, विकेट को तरसे भारतीय गेंदबाज"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


A single thread of hope is still a very powerful thing.          Give your stress wings and let it fly away.          You should never regret in life. If it's good, it's wonderful. If it's bad, it's experience.

       
CLOSE
CLOSE